Russia Ukraine News: रूस-यूक्रेन में जंग खत्म करने पर नहीं बनी सहमति, जल्द संभव तीसरी बैठक

यूक्रेन और रूस के वार्ताकारों ने बृहस्पतिवार को कहा कि युद्ध पर तीसरे दौर की वार्ता जल्द ही होगी. पोलैंड की सीमा के पास बेलारूस में बृहस्पतिवार को वार्ता में रूसी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करने वाले राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सलाहकार व्लादिमीर मेदिन्स्की ने कहा कि दोनों पक्षों की ‘‘स्थिति बिल्कुल स्पष्ट है, संघर्ष के राजनीतिक समाधान से संबंधित मुद्दों समेत एक-एक बात लिखी गयी है.’’

उन्होंने विस्तार से जानकारी दिए बिना कहा, ‘‘उनकी ओर से आपसी सहमति बनी है.’’ उन्होंने पुष्टि की कि रूस और यूक्रेन नागरिकों को निकालने के लिए सुरक्षित गलियारे बनाने के अस्थायी समझौते पर पहुंच गए हैं. रूस के वरिष्ठ सांसद लियोनिद स्लुत्स्की ने कहा कि अगली दौर की वार्ता में समझौते हो सकते हैं, जिन्हें रूस और यूक्रेन की संसदों द्वारा अनुमोदित किए जाने की आवश्यकता होगी.

समाचार एजेंसी एएनआई ने कीव इंडिपेंडेंट के हवाले से जानकारी देते हुए ट्वीट किया, “यूक्रेन के राष्ट्रपति के सलाहकार मायखाइलो पोडोलीक के अनुसार, यूक्रेन रूस के साथ दूसरे दौर की वार्ता के परिणाम से असंतुष्ट है. दोनों देश तीसरे दौर की मुलाकात के लिए जल्द मिलेंगे: कीव इंडिपेंडेंट.”

यूक्रेन के राष्ट्रपति के सलाहकार मायखाइलो पोडोलीक के अनुसार, यूक्रेन रूस के साथ दूसरे दौर की वार्ता के परिणाम से असंतुष्ट है। दोनों देश तीसरे दौर की मुलाकात के लिए जल्द मिलेंगे: कीव इंडिपेंडेंट

एक अन्य ट्वीट में लिखा, “मायखाइलो पोडोलीक के अनुसार, यूक्रेन और रूस मिलकर नागरिकों को निकालने और लड़ाई वाले क्षेत्रों में खाना और दवा पहुंचाने के लिए मानवीय गलियारे प्रदान करेंगे: कीव इंडिपेंडेंट.”

वहीं, इसी बीच आया फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों का एक बयान मामले के और ज्यादा बिगड़ने की ओर इशारा करता है. मैक्रों ने बृहस्पतिवार को कहा कि उन्होंने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से यूक्रेन पर हमले रोकने के लिए एक बार फिर कहा है, लेकिन पुतिन अभी ऐसा नहीं करेंगे. मैक्रों ने ट्वीट किया, ‘‘इस समय तो उन्होंने इससे इनकार किया है.’’

फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने पुष्टि की कि उन्होंने बृहस्पतिवार को पुतिन से फोन पर बात की थी और कहा कि वह संवाद जारी रखेंगे ताकि और अधिक मानवीय त्रासदी नहीं हो. उन्होंने अपने पोस्ट में लिखा, ‘‘हमें हालात बदतर होने से रोकने चाहिए.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.