Paytm ने रेलवे टिकट बुकिंग के लिए लॉन्च की ‘बुक नाउ,पे लेटर’ सुविधा, जानें डिटेल्स

    अगर आप रेलवे टिकट पेटीएम (Paytm) के जरिए बुक करते हैं तो यह खबर आपके काम की है. पेटीएम ने अपने यूजर्स के लिए एक खास सुविधा शुरू करने का ऐलान किया है.

    अब रेलवे यात्री को टिकट बुकिंग करते वक्त पैले देने की जरूरत नहीं पड़ेगी. अब यात्री बाद में भी रेलवे टिकट का भुगतान कर सकते हैं. यात्रियों के लिए इस नई सुविधा की शुरुआत आईआरसीटीसी (IRCTC) और पेटीएम की पार्टनरशिप के बाद हुआ है.

    पेटीएम ने आईआरसीटीसी के साथ मिलकर एक खास स्कीम लॉन्च की है जिसका नाम है ‘बुक नाउ,पे लेटर’ (Book Now Pay Later) सुविधा.

‘बुक नाउ,पे लेटर’ क्या है?

‘बुक नाउ,पे लेटर’ एक तरह की पोस्टपेड सेवा है जिसके द्वारा अब यात्री रेलवे टिकट बुक कराते वक्त पैसे न देकर बाद में टिकट के पेमेंट का भुगतान कर सकते हैं.

   यह सेवा उन लोगों के लिए ज्यादा फायदेमंद हैं जिनके रिजर्वेशन करते वक्त पैसे नहीं है. कई बार ऐसा होता है कि किसी यात्री को इमरजेंसी की स्थिति में रेलवे रिजर्वेशन की जरूरत पड़ती है. कई बार उस समय पैसे नहीं होते हैं. ऐसे में पेटीएम की यह ‘बुक नाउ,पे लेटर’ की सुविधा यात्रियों के लिए बहुत मददगार साबित होगा.

   इस स्कीम के तहत अब यात्रियों को 30 दिन के समय मिलेगा टिकट बुक कराने के बाद पैसे जमा करने के लिए. पेटीएम पहले भी कई तरह के सेगमेंट्स में ‘बुक नाउ,पे लेटर’ की सुविधा देता रहा है लेकिन, रेलवे टिकट बुकिंग में यह सुविधा पहली बार मिल रही है.

    पेटीएम यूजर्स का हर महीने का बिल बनाता है इससे ग्राहकों को पता चल सकेगा की उन्हीं टोटल कितने पैसे जमा करने हैं. न्यूज 18 में छपी रिपोर्ट के मुताबिक पेटीएम पेमेंट्स सर्विस CEO प्रवीण शर्मा ने बताया है कि पेटीएम ग्राहकों की सुविधा के लिए नए-नए कदम उठा रही है. इस नई सुविधा से लोगों को आपातकाल में कई नई सुविधा मिलेगी.

पेटीएम के जरिए रेलवे टिकट बुकिंग करने का तरीका-

-पेटीएम पर रेलवे टिकट बुकिंग करने के लिए सबसे पहले आप आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जाएं.
-इसके बाद अकाउंट में लॉगिन करके टिकट के डिटेल्स भरें.
-इसके बाद पेमेंट ऑप्शन पर पेटीएम पोस्टपेड पर क्लिक करें.
-इसके बाद पेटीएम पर लॉगइन करने के बाद ओटीपी दर्ज करें.
-इसके बाद आपका ‘बुक नाउ,पे लेटर’ के जरिए टिकट बुक हो जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.