रूसी खिलाड़ियों को बीजिंग विंटर पैरालंपिक के लिए मिली हरी झंडी, इस शर्त पर होगी एंट्री

रूसी खिलाड़ियों को बीजिंग विंटर पैरालंपिक के लिए मिली हरी झंडी, इस शर्त पर होगी एंट्री


इंटरनेशनल पैरालंपिक कमिटी (IPC) ने रूस (Russia) और बेलारूस के खिलाड़ियों को बीजिंग में होने वाले विंटर पैरालंपिक खेलों (Winter Paralympic Games 2022) में हिस्सा लेने की छूट दे दी है. हालांकि ये खिलाड़ी रूस और बेलारूस के झंडे तले हिस्सा नहीं ले पाएंगे. इन खिलाड़ियों को न्यूट्रल होकर इस इवेंट में हिस्सा लेना होगा. IPC ने बुधवार को यह ऐलान किया है.

इंटरनेशन ओलिपिंक कमिटी (IOC) ने इसी हफ्ते सभी स्पोर्ट्स फेडरेशन को रूस और बेलारूस की टीमों और खिलाड़ियों को टूर्नामेंट से सस्पेंड करने के सुझाव दिए थे. हालांकि कमिटी ने यह बात भी जोड़ी थी कि अगर वक्त और कानूनी अड़चनें इन टीमों और खिलाड़ियों को बाहर करने से रोकती हैं तो इन्हें न्यूट्रल होकर इवेंट में हिस्सा लेने की छूट दी जा सकती है.

IOC की सलाह पर IPC ने बयान जारी कर कहा, ‘ये खिलाड़ी पैरालंपिक झंडे के तले खेलों में हिस्सा ले सकेंगे. हालांकि इन्हें मेडल टेबल में शामिल नहीं किया जाएगा.’

इसके साथ ही IPC ने यह भी ऐलान किया है कि वह रूस और बेलारूस में आगे कोई भी टूर्नामेंट आयोजित नहीं करेंगे. इसमें वर्ल्ड और यूरोपियन चैंपियनशिप जैसे टूर्नामेंट शामिल हैं. अगली सूचना तक यह आदेश ऐसा ही रहेगा.

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों में एक के बाद एक कई स्पोर्ट्स फेडरेशन ने रूस का बायकॉट किया है. इनमें फीफा वर्ल्ड कप से लेकर वर्ल्ड एथलेटिक्स के टूर्नामेंट शामिल हैं. यूक्रेन के खिलाफ जबरदस्ती युद्ध थोपने के कारण खेलों से रूस का बहिष्कार किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें..

PSL 2022 Final मैच में 41 साल के हफीज ने मचाई धूम, लाहौर कलंदर्स पहली बार बना चैंपियन

जज्बे को सलाम, रणजी ट्रॉफी के बीच बेटी गुजरी, अब पिता भी दुनिया छोड़ गए, लेकिन इस खिलाड़ी ने नहीं छोड़ा टीम का साथ



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.