राहुल गांधी ने यूक्रेन में फंसे छात्रों का वीडियो किया ट्वीट, कहा – सरकार नहीं कर रही एहसान

Indian Students Evacuation: यूक्रेन में हर दिन बीतने के साथ ही हालात और ज्यादा बिगड़ते जा रहे हैं. जिससे उन तमाम देशों पर भी दबाव बढ़ता जा रहा है, जिनके नागरिक अब भी यूक्रेन में फंसे हुए हैं. इनमें भारत भी शामिल है. अब भी हजारों भारतीय यूक्रेन के अलग-अलग हिस्सों में फंसे हैं. सरकार का कहना है कि इन्हें निकालने की कोशिश जारी है, लेकिन दूसरी तरफ विपक्षी नेता सरकार पर जमकर हमलावर हैं. उनका कहना है कि सरकार ने छात्रों को निकालने में काफी देर कर दी.

राहुल ने किया छात्रों का वीडियो ट्वीट
कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार छात्रों और भारतीय लोगों की वापसी को लेकर सरकार पर हमलावर हैं. हर दिन राहुल गांधी इस मामले को लेकर सरकार से सवाल पूछ रहे हैं. अब एक बार फिर राहुल ने एक वीडियो ट्वीट कर सरकार को घेरने की कोशिश की है. कांग्रेस नेता ने एक भारतीय छात्र का वीडियो ट्वीट किया है और लिखा है कि, “भारतीयों को बाहर निकालना कर्तव्य है, एहसान नहीं…”

इस वीडियो में यूक्रेन में फंसे छात्र कहते दिख रहे हैं कि, भारत सरकार की तरफ से उन्हें कोई खास मदद नहीं मिल रही है. छात्र इस वीडियो में ये सवाल उठा रहे हैं कि, यूक्रेन में जहां खतरा था वहां सरकार की तरफ से कोई मदद नहीं मिली. लेकिन जो देश सेफ हैं, वहां से हमें निकालकर इसे इवैक्युएशन का नाम दिया जा रहा है. छात्रों का कहना है कि बॉर्डर पर भी उनकी मदद करने के लिए एबेंसी का कोई शख्स नहीं था, बस उन्हें कहा गया कि बस पकड़ो और वहां चले जाओ.

विपक्षी नेता लगातार उठा रहे सवाल
बता दें कि इससे पहले भी राहुल गांधी ने यूक्रेन को लेकर कई ट्वीट किए हैं. एक दिन पहले किए गए ट्वीट में राहुल ने सरकार से सवाल करते हुए पूछा था कि, “और त्रासदी ना हो इसके लिए केंद्र सरकार को बताना होगा – कितने छात्रों को बचाकर ला चुके हैं. कितने अभी भी यूक्रेन में फंसे हुए हैं. हर क्षेत्र के लिए विस्तृत निकास प्लान. इन परिवारों को एक स्पष्ट रणनीति बताना हमारी ज़िम्मेदारी है.” राहुल गांधी के अलावा पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने भी मोदी सरकार पर सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि, जब सरकार को यूक्रेन की स्थिति पता थी तो छात्रों को निकालने में इतनी देरी क्यों की गई?

Leave a Reply

Your email address will not be published.