यूक्रेन पर हमले को पुतिन ने बताया नये नाजियों के खिलाफ लड़ाई, कहा- बहादुरी से लड़ रही है सेना

यूक्रेन पर रूस के हमले का आज 9वां दिन है. यूक्रेन के खारकीव में रूस ने कब्जा कर लिया है. ऐसे में फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन से बातचीत की थी. समाचार एजेंसी एएफपी ने जानकारी दी है कि इस बातचीत में पुतिन ने तय योजना के तहत हमले जारी रखने की बात कही और यूक्रेन युद्ध में मारे गये रूसी सैनिकों के परिवारों को बड़ा मुआवजा देने की बात कही है.

नये नाजियों से वीरता पूर्वक लड़ रही है रूसी सेना

एएफपी लिखता है कि पुतिन ने अपनी सुरक्षा परिषद से तय समय और योजना को कठोरता से पालन करते हुये यूक्रेन पर नियंत्रण हासिल करने को कहा है. पुतिन ने यूक्रेन पर हमले को लेकर कहा कि हम नए नाजियों के खिलाफ युद्ध में हैं. उन्होंने आगे कहा कि मैं इस सिद्धांत को कभी नहीं छोड़ूंगा कि रूसी और यूक्रेनी नागरिक उनके लिये एक समान हैं. रूसी सेना नये नाजियों से वीरता पूर्वक लड़ाई लड़ रही है.

आपको बता दे कि गुरुवार को फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने पुतिन से बात की थी. इस बातचीत में मैक्रों ने पुतिन से यूक्रेन पर हमला रोकने के लिए कहा था. इस पर मैक्रों ने ट्वीट करते हुये कहा कि इस समय तो उन्होंने इससे इनकार किया है.

मैक्रों ने की पुतिन से हालात बदतर होने से बचाने की अपील

फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने पुष्टि की कि उन्होंने गुरुवार को पुतिन से फोन पर बात की थी और कहा कि वह उनसे बातचीत जारी रखेंगे ताकि और अधिक मानवीय त्रासदी नहीं हो. उन्होंने अपने पोस्ट में लिखा कि हमें हालात बदतर होने से रोकना चाहिए.

दोनों नेताओं के बीच हुई करीब 90 मिनट तक बातचीत

उनकी बीच हुई इस बातचीत की पुष्टी दोनों देशों ने की है. दोनों नेताओं के बीच करीब 90 मिनट तक बातचीत चली. इसके बाद मैक्रों ने कहा कि पुतिन पूरे यूक्रेन पर कब्जा करना चाहते हैं. यूक्रेन में सबसे बुरा होना बाकी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.