अमेरिका के अंतरिक्ष अभियान को झटका, रूस ने की ये बड़ी कार्रवाई

रूस और यूक्रेन जंग के बीच अमेरिका के अंतरिक्ष अभियान को झटका लगा है. रूस की अंतरिक्ष एजेंसी रॉसकॉसमॉस ने फैसला किया है कि वह अमेरिका को रॉकेट इंजन नहीं देगा. अमेरिका यूक्रेन में हमले को लेकर रूस का विरोध कर रहा है और उसपर कई प्रतिबंध भी लगा चुका है. रूसी सैनिकों का सामना करने के लिए अमेरिका यूक्रेन को हथियार भी सप्लाई कर रहा है.

अंतरिक्ष एजेंसी रॉसकॉसमॉस के हेड Rogozin ने कहा कि ऐसी स्थिति में हम अमेरिका को अपने विश्व के सर्वश्रेष्ठ रॉकेट इंजनों की आपूर्ति नहीं कर सकते. उन्हें किसी और चीज़ पर उड़ने दो. Rogozin के अनुसार, रूस ने 1990 के दशक से अमेरिका को कुल 122 RD-180 इंजन दिए हैं, जिनमें से 98 में एटलस लॉन्च वेहिकल्स को बिजली देने के लिए इस्तेमाल किया गया है.

Rogozin ने कहा, अमेरिका के पास अभी भी 24 इंजन हैं जो अब रूसी तकनीकी सहायता के बिना छोड़े जाएंगे. रूस ने पहले कहा था कि वह यूक्रेन पर पश्चिमी प्रतिबंधों के जवाब में फ्रेंच गुयाना के कौरो स्पेसपोर्ट से अंतरिक्ष प्रक्षेपण पर यूरोप के साथ सहयोग को निलंबित कर रहा था.

मॉस्को ने ब्रिटिश सैटेलाइट कंपनी वनवेब से गारंटी की भी मांग की है कि उसके उपग्रहों का इस्तेमाल सैन्य उद्देश्यों के लिए नहीं किया जाएगा. वनवेब, जिसमें ब्रिटिश सरकार की हिस्सेदारी है, ने गुरुवार को कहा कि वह कजाकिस्तान में रूस के बैकोनूर कोस्मोड्रोम से सभी लॉन्च को निलंबित कर रही है. Rogozin ने कहा कि रूस अब रॉसकॉसमॉस और रक्षा मंत्रालय की जरूरतों के अनुरूप दोहरे उद्देश्य वाले अंतरिक्ष यान बनाने पर ध्यान केंद्रित करेगा.

ये भी पढ़ें- रूस के हमले के बीच अब यूक्रेन में गूगल सर्विस पर असर, जी-मेल और यू-ट्यूब नहीं चला पा रहे लोग

Ukraine Russia War: अमेरिका के अंतरिक्ष अभियान को झटका, रूस ने की ये बड़ी कार्रवाई

Leave a Reply

Your email address will not be published.